Tuesday, December 6

Important Links


Dainik Rasifal : http://blog.jyotishguru.com/
========================================================
1. Zamzar.com
एक फाइल को दूसरी फाइल में कन्वर्ट करना है तो इसे ट्राई करें। साइनअप करने की भी जरूरत नहीं है। 1200 तरह की फाइल्स को कन्वर्ट किया जा सकता है। अगर आपके पास ऐसा फॉरमैट है जो साइट पर कन्वर्ट नहीं हो रहा, आप उसे इन्हें ईमेल कर दीजिए और वे इसे कन्वर्ट करने की कोशिश करेंगे। 50 MB से बड़े साइज की फाइल फ्री वर्जन में आप अपलोड नहीं कर सकते, यह बात ध्यान रखनी होगी। फाइल बड़ी है तो पेड सर्विस लेनी होगी।
2. Mailinator.com
इन दिनों लगभग सभी वेबसाइट्स आपको साइन-अप करने के लिए ईमेल अड्रेस इस्तेमाल करने को कहती हैं। वे साइट्स आपकी ईमेल आईडी को अन्य सर्विसेज के साथ शेयर करेंगी या नहीं, इस बारे में पक्के तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता। अगर उन्होंने शेयर कर दी तो आपके मेलबॉक्स में स्पैम्स की बाढ़ आ जाएगी। इसलिए Mailnator सर्विस का इस्तेमाल करके आप ऐसा ईमेल अड्रेस बना सकते हैं, जो कुछ ही घंटों बाद नष्ट हो जाता है। आप टेंपररी ईमेल के जरिए साइनअप करके अपना अकाउंट ऐक्टिवेट कर सकते हैं। स्पैम की चिंता किए बगैर आप ऐसा कई बार कर सकते हैं। आप कितने ईमेल अड्रेस बना सकते हैं, इसकी कोई लिमिट नहीं है। ध्यान देने वाली बात यह है कि इसके जरिए आप मेल सिर्फ रिसीव कर पाएंगे, सेंड नहीं।
3. PrivNote.com
कई बार आप किसी निजी जानकारी को किसी के साथ शेयर करना चाहते हैं, मगर सेफ्टी की चिंता होती है। जैसे कि मान लीजिए किसी को एटीएम पिन, बैंक पासवर्ड या ईमेल अड्रेस वगैरह बताना हो। ऐसी स्थिति में SMS, चैट या ईमेल का इस्तेमाल करना पूरी तरह सुरक्षित नहीं है। इसलिए आप PrivNote का इस्तेमाल करते हैं। इसके जरिए आप ईमेल या चैट के जरिए टेक्स्ट नोट भेज सकते हैं, जो सामने वाले द्वारा पढ़ लिए जाने के बाद डिलीट हो जाता है। आप नोट को एनक्रिप्ट भी कर सकते हैं।
4. Disposablewebpage.com
ईमेल अड्रेस की ही तरह आप टेंपररी वेबपेज भी बना सकते हैं। जन्मदिन, शादी या रीयूनियन वगैरह के लिए पेज बनाना है तो टेंपररी वेबपेज बनाना ठीक रहता है। आपको बस साइनअप करके अपना पेज बनाना है। कोडिंग की भी जरूरत नहीं है, आइकॉन के जरिए आप पेज क्रिएट कर सकते हैं। टेक्स्ट, फोटो, विडियो और लोकेशन वगैरह आप इसमें ऐड कर सकते हैं। इसके बाद आप अपने दोस्तों वगैरह के साथ वेबपेज का लिंक शेयर कर सकते हैं। 90 दिन बाद यह पेज अपने आप डिलीट हो जाता है।
5. SimplyNoise & ASoftMurmur
किसी काम पर फोकस करना हो तो ये वेबसाइट्स आपकी मदद करेंगी। ये फ्री में आपको बहुत सारे ऐंबियंट साउंड ऑफर करती हैं। आप नॉइज़ सिलेक्ट करके ऑडियो लेवल और स्लीप टाइमर ऑप्शन वगैरह सेट कर सकते हैं। asoftmurmur पर आप बारिश, लहरों, पक्षियों और कॉफी शॉप तक के साउंड को चुन सकते हैं। दोनों वेबसाइट्स के ऐंड्रॉयड और iOS ऐप्स भी हैं।
6. ManualsLib.com
जब आप कोई नया प्रॉडक्ट खरीदते हैं, हो सकता है कि इसमें यूजर मैनुअल न हो। यह भी हो सकता है कि आपने वह फेंक दी हो या गुम हो गई हो। ऐसे में आप ManualsLib.com में जाकर विभिन्न डिवाइसेज की कैटिगरी में जाकर अपने डिवाइस या प्रॉडक्ट को सर्च कर सकते हैं। उसकी मैन्युअल आपके सामने होगी। आप उसे प्रिंट भी कर सकते हैं।
7. Newsmap.jp
क्या आपको कभी ऐसे सिंगल पेज की जरूरत महसूस हुई है जहां पर आप लेटेस्ट और ट्रेडिंग न्यूज को एक ही जगह पा सकें?Newsmap यही काम करता है। यह आपको हेडलाइन्स दिखाता है और हर कैटिगरी के हिसाब से अलग रंग में दिखाता है। आप इसे कस्टमाइज भी कर सकते हैं। हेडलाइन बॉक्स का साइज बताता है कि न्यूज कितनी ट्रेंड हो रही है। अगर आप कोई आर्टिकल पढ़ना चाहते हैं तो आपको किसी हेडलाइन पर क्लिक करना होगा और आर्टिकल नए टैब में खुल जाएगा।
8. AccountKiller.com
ज्यादातर सोशल नेटवर्क वेबसाइट्स अकाउंट क्लोज करने की प्रक्रिया को जटिल बनाकर रखती हैं। अगर आप अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स को डिलीट करना चाहते हैं तो AccountKiller.com पर जाएं। यह आपको बताएगी कि कौन सी वेबसाइट से अकाउंट हटाना कितना मुश्किल है। क्लिक करने पर यह डिऐक्टिवेशन के लिए डायरेक्ट लिंक दे देता है।
9. TwoFoods.com
अगर आप अपनी सेहत को लेकर फिक्रमंद हैं और यह देखना चाहते हैं कि आप कितनी कैलरीज़ ले रहे हैं, TwoFoods.com आपके लिए ही है। इसमें एक पेज का इंटरफेस है, जो अलग-अलग तरह के खाने की कैलरीज़ के बारे में बताता है। आप किसी डिश का नाम इनपुट कीजिए और यह उसमें मौजूद कैलरीज़, कार्ब, फैट्स और प्रोटीन की जानकारी दे देगा। भारतीय व्यंजनों के लिए यह मिलते-जुलते व्यंजनों को सजेस्ट करता है, जिससे आपको कुछ आइडिया मिल जाए।
10. Pdfunlock.com
कुछ PDF फाइल्स प्रॉटेक्टेड होती हैं। अगर आपके पास प्रॉटेक्टेड फाइल का पासवर्ड भी है, तब भी आप इसमें बदलाव नहीं कर पाएंगे। प्रॉटेक्शन को रिमूव करने के लिए PDUnlock पर जाएं, पासवर्ड डालकर अनलॉक करें और यह वेबसाइट आपको अनप्रॉटेक्टेड PDF डाउनलोड करने को दे देगी।  यह सर्विस फ्री है और आप इसे पेपाल के जरिए डोनेट कर सकते हैं। इसी तरह आप pdfmerge.com, splitpdf.com और pdfprotect.net को भी ट्राई कर सकते हैं।
11. Savr.com
हम सभी कई सारे डिवाइसेज पर काम करते हैं, मगर उनके बीच फाइल्स को शेयर करना आसान नहीं है। अगर आप चाहते हैं कि यूएसबी ड्राइव के बिना या खुद को ही ईमेल भेजे बिना फाइल्स शेयर की जा सकें तो Savr.com को ट्राई करें। यह आपको कॉमन क्लिपबोर्ड और कॉमन स्पेस देता है, जहां आप फाइल्स स्टोर कर सकते हैं। यह पीसी और मोबाइल पर भी काम होती है। 25 MB तक की फाइल्स शेयर की जा सकती हैं।
12. Printfriendly.com
कभी ब्राउजर से किसी वेबपेज को डायरेक्ट प्रिंट करने की कोशिश की है? अजीब सा प्रिंट आता है, जिसमें तस्वीरें, लिंक वगैरह नजर आते हैं। अगर आप चाहते हैं कि मुख्य टेक्स्ट ही प्रिंट हो, इसके लिए आपको उस पेज का URL लेकर Printfriendly.com में पेस्ट करना होगा। कुछ ही सेकंड्स में यह प्रिंटेबल पेज दिखा देता है, जहां से आप प्रिंट दे सकते हैं। Firefox, Chrome, Internet Explorer और Safari के लिए प्रिंटफ्रेंडली के एक्सटेंशन भी उपलब्ध हैं।
13. Spreeder.com
अगर आप जल्दी-जल्दी सबकुछ पढ़ना शुरू कर दें तो बहुत सी जानकारी जुटा पाएंगे। पढ़ने की स्पीड अभ्यास से बढ़ाई जा सकती है। Spreeder.com पर आप किसी टेक्स्ट का हिस्सा पोस्ट कीजिए। यह एक-एक शब्द आपके सामने डिस्प्ले करना शुरू कर देगा, जिसे आप पढ़ सकते हैं। आप टेक्स्ट वगैरह को कस्टमाइज कर सकते हैं और अपनी स्पीड माप सकते हैं। स्पीड वगैरह को भी अजस्ट कर सकते हैं। इस तरह आप किसी भी पैरा को जल्दी पढ़ सकते हैं।

Friday, September 16

Love at first sight

                                                                        Love at first sight

तुझे देखा जब मे पहली बार.... होठो  पे कोई  लब्ज नही बस मेरे आँखो के प्याले छलकने लगे..... आख़िर ये क्या था, मैं जो समझ ना सका.... सायद तुम समझ चुकी हो तो बता दो ना....
तुझे देखा जब मैं  पहली बार....
साँसे रुक सी गई.दिल थम सा गया..
ये जिंदगी की कशमकस मे, मैं तो बहुत कुछ भूल चुका हू.... मगर तुम्हे तो याद होगा आख़िर हमारा पुराना रिस्ता क्या है, सायद तुम समझ चुकी हो तो बता दो ना....

जय श्री हरी. . 

 15 Sept, 2016, 12.18 AM



Thursday, September 13

विस्मय का क्या समाधान ?

किसका सिंगार ? किसकी सेवा ?
नर का ही जब कल्याण नहीं ?
किसके विकास की कथा ? जनों के
ही रक्षित जब प्राण नहीं ?

इस विस्मय का क्या समाधान ?
रह-रह कर यह क्या होता है ?
जो है अग्रणी वही सबसे
आगे बढ़ धीरज खोता है।

Thursday, September 6

ग़रीबी (Poverty)


जब भी कोई बात डंके पे कही जाती है !
न जाने क्यों ज़माने को अख़र जाती है !!

झूठ कहते हैं तो मुज़रिम करार देते हैं !
सच कहते हैं तो बगा़वत कि बू आती है !!

फ़र्क कुछ भी नहीं अमीरी और ग़रीबी में !
अमीरी रोती है और ग़रीबी मुस्कुराती है !!

माँ ! मुझे चाँद नही एक रोटी चाहिऐ !
बिटिया ग़रीब की रह - रहकर बुदबुदाती है !!

फुटपाथ सो गई थककर मेहनत कर के  !
इधर नींद कि खा़तिर हवेली छ्टपटाती है !!

Wednesday, July 11

God Remove bad thought from mind.


• How to curb the bad thoughts coming in the mind ?


The bad thought should be nipped in the bud by supplanting counter divine thoughts. It should not be allowed to penetrate the physical body. If your will is strong, the evil thought can be driven at once. Pranayama, vigorous prayer, Vichara, Atmic contemplation, Saguna meditation and Satsanga can nip the evil thoughts in the bud at the threshold of the mental factory. The combat will be keen in the beginning. When you become purer and purer, when your will-power develops, when you develop more Sattva or purity and when you have a habitual meditative mood, you will be established in physical and mental Brahmacharya. Understand the power of thought and utilise it profitably. Understand the ways of the mind. Learn how to use the pure will. Become a vigilant, dexterous watchman of your thoughts. Curb them before they raise their heads out of the mind through skill and wisdom.

Saturday, July 7

"खोखली जिंदगी"





बिन चुभे एक चुभन
बिन जागे एक नींद
होठ गीले जुबां प्यासी
चेतना की खोखली ज़मीन
दिन के आठ पहर 24 घंटे
दौड़ क्यों नहीं रुकती ?
आत्मा थक जाती
लालच कहां झुकती
ऐसा क्या जो इतराऊं
कौन सा सपन संजोऊं
किस फर्ज की कसम खाऊं
नदी दिखी वो समंदर
आसमां समझा वो बवंडर
जिंदगी जागीर लगती है
गिरे तो फरेब
उठे तो तकदीर लगती है !!

Sunday, June 24

तुम राम-कृष्ण वंशज हो !!


क्या जंग लगी तलवारों में, जो इतने दुर्दिन सहते हो!
राणा प्रताप के वंशज हो,क्यों कुल को कलंकित करते हो!!
आराध्य तुम्हारे राम-कृष्ण,जो कर्म की राह दिखाते थे!
जो दुश्मन हो आततायी, वो चक्र सुदर्शन उठाते थे!
श्री राम ने रावण को मारा, तुम गद्दारों से डरते हो!!
जब शस्त्रों से परहेज तुम्हे,तो राम राम क्यों जपते हो!
क्या जंग लगी तलवारों में,जो इतने दुर्दिन सहते हो!!

अंग्रेजों ने दौलत लूटी,मुगलों ने थी इज्जत लूटी !
दौलत लूटी, इज्जत लूटी, क्या खुद्दारी भी लूट लिया,
गिद्धों ने माँ को नोंच लिया,तुम शांति शांति को जपते हो!
इस भगत सुभाष की धरती पर,क्यों नामर्दों से रहते हो?
क्या जंग लगी तलवारों में जो इतने दुर्दिन सहते हो!!

हिन्दू हो,कुछ प्रतिकार करो,तुम भारत माँ के क्रंदन का!
यह समय नहीं है, शांति पाठ और गाँधी के अभिनन्दन का!!
यह समय है शस्त्र उठाने का,गद्दारों को समझाने का,
शत्रु पक्ष की धरती पर,फिर शिव तांडव दिखलाने का!!
इन जेहादी जयचंदों की घर में ही कब्र बनाने का,
यह समय है हर एक हिन्दू के,राणा प्रताप बन जाने का!
इस हिन्दुस्थान की धरती पर ,फिर भगवा ध्वज फहराने का!!